आगरा में मुस्लिमों के बीच RSS, कहा- अंग्रेजों और कांग्रेस ने हमें मुख्यधारा से किया दूर

Spread the love

आगरा में आरएसएस का बड़ बयान.

संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश ने दो टूक कहा कि मुस्लिम समाज को मुगलों ने, अंग्रेजों ने और फिर कांग्रेस ने मुख्यधारा से अलग कर दिया. इस बात का जिले के विभिन्न हिस्सों से आए मुस्लिम समाज के लोगों ने स्वागत भी किया है.

आगरा. आरएसएस (RSS) ने मुस्लिम समाज को उनके इतिहास से रूबरू कराने को लेकर कार्यक्रम शुरू किया है. इसी को लेकर ब्रज में मुस्लिम समाज को उनकी जड़ों से परिचित कराने के लिए आगरा के भदावर हाउस में हुए कार्यक्रम आयोजित हुआ. इसमें संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश ने दो टूक कहा कि मुस्लिम समाज को मुगलों ने, अंग्रेजों ने और फिर कांग्रेस ने मुख्यधारा से अलग कर दिया. इस बात का जिले के विभिन्न हिस्सों से आए मुस्लिम समाज के लोगों ने स्वागत भी किया है. इंद्रेश ने कहा कि देश के 98 फ़ीसदी मुसलमानों की जड़ हिंदुस्तान में है. यहां के मुसलमानों की संस्कृति भी अरबी, तुर्की या ईरानी नहीं बल्कि वह सिर्फ हिंदुस्तानी ही रही है.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए इंद्रेश ने कहा कि सदियों से मुस्लिम समाज को मुख्यधारा से अलग-थलग किया जाता रहा है. इसके लिए पहले मुगल जिम्मेदार थे और बाद में अंग्रेजों ने भी यही किया. आजादी के बाद कांग्रेस ने भी कांग्रेस भी मुस्लिमों को मुख्यधारा से अलग करती आ रही है. मुस्लिम समाज की जिस तरह से शिक्षा दीक्षा होनी चाहिए थी, उसकी ओर ध्यान नहीं दिया गया. उन्होंने कहा कि अब वक्त बदल चुका है और अब अल्पसंख्यक समाज को समाज की मुख्यधारा के साथ जोड़ कर सबका विकास किया जाएगा.

राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य का बड़ा बयान

आरएसएस की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य ने कहा कि अयोध्या में बनने वाले राम के मंदिर के लिए मुस्लिम समाज निधि समर्पण का भी काम करेगा. इसके लिए जगह-जगह कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे. इंद्रेश ने कहा कि देश के 98 फ़ीसदी मुसलमानों की जड़ हिंदुस्तान में है, हिंदुस्तान में थी और हिंदुस्तान में रहेगी. यहां के मुसलमानों की संस्कृति भी अरबी, तुर्की या ईरानी नहीं बल्कि वह सिर्फ हिंदुस्तानी है. कार्यक्रम में पूर्व मंत्री अरिदमन सिंह, रजनीश त्यागी सहित कई प्रमुख लोग उपस्थित रहे. इसके साथ ही कार्यक्रम में पहुंचे मुस्लिम समाज के लोगों की ओर से संघ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश को एक तलवार भी भेंट की.ये भी पढ़ें: Gang war in Churu: ढाणी मौजी में बदमाशों ने 4 लोगों को गोलियों से भूना, संपत नेहरा गैंग के गुर्गे की मौत
मुस्लिम राष्ट्रीय मंच में जुडऩे से कट्टरता होगी दूर

आरएसएस की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश ने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच से बड़ी संख्या में मुस्लिम समाज के लोग जुड़ रहे हैं. ऐसे लोगों में ना तो कट्टरता होगी ना ही द्वेष भावना होगी. यह लोग सिर्फ भारत के विकास के लिए काम करेंगे. बेहतर तालीम और तरक्की के जरिए इनके जीवन में तनाव मुक्त खुशहाली होगी. इंद्रेश ने कहा कि कट्टरता के त्याग से ही जीवन संघर्ष से मुक्त होता है. प्रमुख उद्देश्य ही है कि मुस्लिम समाज अपनी जड़ों को पहचाने और अपनी जड़ों की ओर लौटें.




Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *