इमरती देवी: MP उपचुनाव का सबसे चर्चित चेहरा प्रचार के आखिरी दिन रहेगा ‘खामोश’

Spread the love


इमरती देवी को प्रचार करने पर बैन लगा दिया गया है.

MP Assembly By-Election: ग्वालियर की डबरा विधानसभा सीट से BJP उम्मीदवार इमरती देवी (Imarti Devi) के चुनाव प्रचार पर निर्वाचन आयोग ने प्रतिबंध लगा दिया है. शिवराज कैबिनेट की मंत्री पर है विवादित बयानबाजी का आरोप.

भोपाल. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) विधानसभा उपचुनाव (Assembly By-Election) में सबसे चर्चित चेहरे को प्रचार के आखिरी दिन खामोश रहना पड़ेगा. ऐसा इसलिए क्योंकि चुनाव आयोग (Election Commission) ने उन्हें प्रचार के आखिरी दिन प्रचार न करने का फरमान जारी किया है. चुनाव आयोग की ओर से डबरा विधानसभा सीट से बीजेपी की प्रत्याशी इमरती देवी सुमन (Imrati Devi Suman) पर विवादित बयानबाजी को लेकर एक्शन का चाबुक चलाया गया है. चुनाव आयोग की ओर से इमरती देवी सुमन के प्रचार पर आखिरी एक दिन के लिए रोक लगाई गई है.

चुनाव आयोग की ओर से शनिवार देर रात जारी हुए आदेश में यह कहा गया है कि इमरती देवी 1 नवंबर यानी कि उपचुनाव के प्रचार के आखिरी दिन न तो कोई जनसभा कर पाएंगी और ना ही किसी रैली को वह संबोधित कर पाएंगी. चुनाव आयोग की ओर से यह कार्रवाई पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ की गई बयानबाजी को लेकर की गई है. इमरती देवी ने कमलनाथ की ओर से उन्हें आइटम कहने के बाद मंच से विवादित बयान दिया था.

कमलनाथ पर भी लग चुका है प्रतिबंध
इमरती देवी पर चुनाव आयोग के एक्शन से पहले पूर्व मुख्यमंत्री और पीसीसी चीफ कमलनाथ (Kamalnath) पर भी चुनाव आयोग का चाबुक चल चुका है. डबरा विधानसभा में प्रचार के दौरान कमलनाथ ने इमरती देवी को आइटम कहकर संबोधित किया था, जिसके बाद चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस जारी किया और जवाब से संतुष्ट नहीं होने पर उन्हें स्टार प्रचारक की सूची से बाहर कर दिया था. चुनाव आयोग की इस कार्रवाई पर कांग्रेस ने कई सवाल खड़े किए थे. हालांकि अब उसी चुनाव आयोग ने इमरती देवी के खिलाफ एक्शन लिया है.हॉट सीट है डबरा

डबरा विधानसभा सीट मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव की सबसे हॉट सीट मानी जा रही है. इस सीट पर ज्योतिरादित्य सिंधिया की सबसे करीबी और मध्यप्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी चुनाव लड़ रही हैं. उनके खिलाफ उन्हीं के समधी सुरेश राजे कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी हैं. यही वजह है कि डबरा विधानसभा सीट पर चुनाव बेहद दिलचस्प हो गया है और इस दिलचस्प मुकाबले में कई बार नेताओं के बयान अपनी मर्यादा को भी लांघ चुके हैं. चुनाव आयोग का चाबुक दोनों तरफ चला है फिर भी उसे निशाने पर लिया जा रहा है.





Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *