इयान चैपल ने पूछा-स्टीव स्मिथ पर कप्तानी के लिए 24 महीने का जबकि वॉर्नर पर आजीवन प्रतिबंध, ऐसा क्यों

Spread the love

स्टीव स्मिथ को एक बार फिर कप्तान बनाने की चर्चा है.

स्टीव स्मिथ पर कप्तानी के लिए 24 महीने का ही प्रतिबंध लगाया गया था जबकि डेविड वॉर्नर पर आजीवन प्रतिबंध है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 21, 2021, 9:57 PM IST

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल (Ian Chappell) ने कहा कि टिम पेन (Tim Paine) का कोई विकल्प नहीं होने पर 2018 में गेंद से छेड़खानी प्रकरण में शामिल होने के बावजूद स्टीव स्मिथ (Steve Smith) को फिर कप्तान बनाया जा सकता है. पेन की कप्तानी वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम को भारत ने टेस्ट श्रृंखला में 2-1 से हराया. उन्होंने सवाल दागा कि डेविड वॉर्नर (David Warner) के कप्तान बनने पर आजीवन प्रतिबंध है लेकिन स्मिथ पर क्यों नहीं है जबकि गेंद से छेड़खानी मामले में उनकी भूमिका बड़ी थी.

उन्होंने कहा,‘‘स्मिथ और वॉर्नर एक श्रेणी में क्यों नहीं है. स्मिथ पर कप्तानी के लिये 24 महीने का ही प्रतिबंध क्यों लगाया गया, वॉर्नर पर आजीवन प्रतिबंध क्यों है. दूसरी ओर ऑस्ट्रेलियाई टीम से बाहर चल रहे बल्लेबाज पीटर हैंड्सकोंब ने आलोचनाओं से घिरे पेन का समर्थन करते हुए कहा कि भारत के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला में मिली हार के लिए उसकी आलोचना करना बिलकुल बकवास है. भारत के टेस्ट श्रृंखला जीतने के बाद पेन की विकेटकीपिंग और कप्तानी की काफी आलोचना हो रही है.

हैंड्सकोंब ने पत्रकारों से कहा, ‘‘मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि इस टेस्ट श्रृंखला में हारने के लिये उसकी कप्तानी को जिम्मेदार माना जा रहा है, यह बिलकुल बकवास है. ’’ कई पूर्व खिलाड़ियों ने पेन की कप्तानी की आलोचना की जिसमें विकेटकीपर बल्लेबाज इयान हीली और इंग्लैंड के केविन पीटरसन शामिल हैं. हैंड्सकोंब ने अंतिम टेस्ट भारत के खिलाफ 2019 में खेला था. 29 साल के इस क्रिकेटर ने कहा, ‘‘पेन शानदार बल्लेबाजी कर रहा है, अच्छे रन जुटा रहा है, शानदार जज्बे से टीम की अगुआई कर रहा है जिसे देखना शानदार है.”

यह भी पढ़ें:बड़ी खबर: इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मैदान पर दिखेंगे दर्शक, बीसीसीआई ने शुरू की कोशिश

सिराज का खुलासा- जब अंपायर ने कहा- मैदान छोड़ दो और रहाणे बोले- ‘नहीं, डटकर खेलेंगे’

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से 119 टेस्ट मैचों में विकेटकीपर रहे इयान हीली ने कहा, ‘‘यह वास्तव में कप्तान, उप कप्तान, कोच और कोचिंग स्टाफ का अजीबोगरीब प्रदर्शन था. हमारा क्षेत्ररक्षण निराशाजनक था. मैं इस टीम के क्षेत्ररक्षण और रवैये पर काम करूंगा. बाकी चीजें खुद ब खुद लौट आएंगी. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने सिडनी और ब्रिसबेन में टिम पेन का खेल देखा. उसने कड़ा अभ्यास नहीं किया था. नाथन लायन के सामने उसकी विकेटकीपिंग तकनीक काम नहीं करती थी. मुझे लगता है कि वह कप्तान के रूप में बहुत अधिक प्रयास नहीं कर रहा था. ’’ हीली ने कहा, ‘‘इसके अलावा उप कप्तान क्या कर रहा था. पैट कमिंस मैदान पर आप सुझाव क्यों नहीं दे रहे थे. कुछ खास नया नहीं किया गया जिस पर चर्चा की जा सके कि यह टीम वास्तव में क्यों चूक गयी. ’’




Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *