किसान आंदोलन: ‘भारत रत्न’ सचिन तेंदुलकर पर CM बघेल का ‘प्रहार’, कहा- उनका खेती से क्या लेना-देना?– News18 Hindi

Spread the love

रायपुर. विदेशी सेलिब्रिटीज द्वारा किसान आंदोलन के मुद्दे पर भारत की आलोचना पर ट्वीट कर उनको जवाब देने वाले भारत रत्न और पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) पर चौतरफा वार हो रहा है. इस कड़ी में अब एक और नाम जुड़ गया है. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने तेंदुलकर पर निशाना साधते हुए कहा है कि उनका खेती से क्या लेना-देना है. उन्हें खेल के लिए भारत रत्न (Bharat Ratna) मिला है. पहले अगर कभी उन्होंने बयान दिया हो तो समझ में आता है, लेकिन अचानक ऐसे क्यों उन्होंने यह बयान दिया है.

सीएम बघेल ने सचिन तेंदुलकर को नसीहत देते हुए कहा कि उन्हें इन सबसे बचना चाहिए.

एक दिन पहले, पूर्व केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने भी सचिन तेंदुलकर पर हमला बोलते हुए उनसे खेल के अलावा अन्य किसी भी मुद्दे पर सोच-समझकर बोलने की नसीहत दी थी.

बता दें कि पिछले हफ्ते अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना, स्वीडन की पर्यावरणविद् ग्रेटा थनबर्ग, अमेरिकी पॉर्न स्टार मियां खलीफा समेत अन्य कुछ हस्तियों ने किसान आंदोलन को लेकर भारत सरकार की आलोचना की थी. उन्होंने दिल्ली बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे आंदोलनकारी किसानों की तस्वीर के साथ उनके समर्थन में ट्वीट किया था.

दिल्ली बॉर्डर पर पिछले 75 दिन से धरने पर बैठे हैं किसान

बता दें कि केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब-हरियाणा समेत अन्य  राज्यों के किसान दिल्ली बॉर्डर पर 26 नवंबर से धरने पर बैठे हैं. उनकी मांग है कि सरकार अविलंब इन तीनों कानूनों को रद्द करे. सरकार और किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के बीच इस मुद्दे का हल निकालने के लिए ग्यारह दौर की वार्ता हो चुकी है मगर बात नहीं बन सकी है और गतिरोध अब भी कायम है. सरकार ने किसानों को अपनी तरफ से इन कानूनों को अगले डेढ़ साल के लिए टालने (होल्ड पर रखने) की पेशकश की थी लेकिन किसान संगठनों ने अड़ियल रूख अपनाते हुए इसे ठुकरा दिया था.

Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *