तुर्की: इमारत के मलबे से 70 साल के बुजुर्ग को जीवित निकाला गया, बोले- कभी नहीं छोड़ी थी उम्मीद

Spread the love


इजमिर: तुर्की और यूनान में आए जबरदस्त भूकंप के करीब 34 घंटे बाद रविवार को पश्चिमी तुर्की की एक इमारत के मलबे में दबे 70 वर्षीय व्यक्ति को बचावकर्मियों ने निकाला. बुजुर्ग को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. भूकंप से हुई तबाही में कम से कम 53 लोगों की जान गई है जबकि 900 से अधिक लोग घायल हुए हैं. शुक्रवार दोपहर को आए भूकंप के बाद से राहत और बचाव का कार्य जारी है. भूकंप का केंद्र यूनान के सामोस द्वीप के उत्तर पूर्व में इजियन सागर में स्थित था.

राहत और बचाव का कार्य जारी है

रविवार को तुर्की के इजमिर शहर में नौ इमारतों में राहत और बचाव का कार्य जारी है. तुर्की के उपराष्ट्रपति फुअत ओक्ते ने कहा कि इजमिर में मलबे से और शव निकाले जाने के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 51 पर पहुंच गई है. शुक्रवार को आए भूकंप से सामोस में दो किशोरों की मौत हुई और कम से कम 19 अन्य घायल हो गए.

70 साल के बुजुर्ग को मलबे से बाहर निकाला गया

बचाव दल ने रविवार मध्यरात्रि को एक इमारत के मलबे में दबे 70 वर्षीय अहमत सितिम को जीवित बाहर निकालने में कामयाबी हासिल की. स्वास्थ्य मंत्री फहरेतिन कोका ने ट्वीट किया कि बुजुर्ग व्यक्ति ने बाहर आकर कहा, ‘ मैंने उम्मीद कभी नहीं छोड़ी थी.’

यह भी पढ़ें:

गोरखपुर की पहली महिला गैंगेस्‍टर के घर नातिन के जन्‍मदिन की पार्टी में चली गोली, दो घायल

सीएम योगी की चेतावनी, कहा- लव जिहाद चलाने वाले नहीं सुधरे तो ‘राम नाम सत्य है यात्रा’ के लिए तैयार रहें



Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *