बड़ी खबर: इटावा में बनेगा राज्य का पहला सोलर कोल्ड स्टोरेज, किसानों को मिलेगा बड़ा फायदा– News18 Hindi

Spread the love

इटावा. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के इटावा (Etawah) जिले में राज्य का पहला सोलर कोल्ड स्टोरेज (Solar Cold Storage) बनेगा. इस कोल्ड स्टोरेड के बनने से प्रदेश के किसानों (Farmers) को फायदा होगा. इस सोलर कोल्ड स्टोरेज के बारे में इटावा के मुख्य विकास अधिकारी राजागणि आर ने न्यूज 18 को बताया. उन्होंने कहा कि मनरेगा, ग्राम पंचायत और क्षेत्र पंचायत स्तर से धन का खर्च करके सोलर कोल्ड स्टोरेज का निर्माण करने के लिए सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं.

इटावा जिले के बसरेहर विकासखंड के अकबरपुर गांव में सोलर कोल्ड स्टोरेज स्थापित करने के लिए जिला प्रशासन ने जमीन का चिन्हित कर लिया है. इस कोल्ड स्टोरेज की स्थापना पर करीब 15 से लेकर 20 लाख रुपये तक के खर्च आने का अनुमान है. इटावा के मुख्य विकास अधिकारी राजा गणपति आर ने बताया कि सोलर कोल्ड स्टोरेज लगाने का उत्तर प्रदेश में यह पहला प्रयास है. जिसके लिए मनरेगा ग्राम पंचायत और क्षेत्र पंचायत स्तर से धन का खर्च किया जाएगा. सीडीओ ने बताया कि सोलर कोल्ड स्टोरेज की स्थापना से उन किसानों को लाभ होगा, जो अपने खेत से फल और सब्जी लेकर शहर बेचने के लिए आते हैं. लेकिन, यह फल और सब्जी माकूल व्यवस्थाएं ना होने के कारण उनकी फल और सब्जी खराब हो जाती है.

Noida Film City की तैयारी तेज, 10 फरवरी को फिल्म बंधू की टीम करेगी अहम मीटिंग

इसके कारण किसानों का बड़ा नुकसान होता है लेकिन, कोल्ड स्टोरेज की स्थापना हो जाएगी तो किसानों को मामूली खर्च करके अपनी फल और सब्जी को इस स्टोर में रखकर दूरस्थ रख सकते हैं और खुले बाजार में उनकी बिक्री करके धन का अर्जन भी कर सकते हैं. इस कोल्ड स्टोर के बनने से स्थानीय किसानों को बड़ा लाभ होगा. पहले सब्जी और फल की पैदावार करने वाले किसानों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता था. फल और सब्जी को खेत से तोड़ने के बाद उसी दिन बाजार में बेचना पड़ता है. अगर किसी कारण बस किसान अपनी फसल को नहीं बेच पाता है तो वो अगले दिन खराब हो जाती है. किसानों की इसी समस्या को देखते हुए सीडीओ ने इटावा जिले में सोलर कोल्ड स्टोरेज बनाने का प्रस्ताव बनाया है. उन्होंने बताया कि इस पर अमल भी शुरू हो गया है.

क्या है कोल्ड स्टोर की सबसे खासियत

इस कोल्ड स्टोर की खास बात यह है कि इसको चलाने के लिये बिजली का प्रयोग नहीं किया जाएगा, बल्कि सोलर ऊर्जा के जरिये इसको चलाया जाएगा. उन्होंने बताया कि सोलर कोल्ड स्टोर में अपनी सब्जी और फल रखने वाले किसानों से 30 पैसे आए लेकर 50 पैसे प्रति किलो के हिसाब से मामूली रकम ली जाएगी, जिसके स्टोर का संचालन किया जा सके. उन्होंने बताया कि स्वंय सहायता समूह के माध्यम से सोलर कोल्ड स्टोरेज का संचालन कराया जाएगा. जिससे गरीब महिलाओं को आय भी होगी और किसानों की फसल भी सुरक्षित रहेगी. बताते चले इटावा मे तैनात सीडीओ राजागण पति आर आईएएस अफसर है और ग्रामीण लोगों की समस्याओं को देखते हुए उनको सहलूयिते प्रदान करने के लिए नये नये प्रयोग करते रहते हैं.

Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *