बांदा: नाबालिग से गैंगरेप के मामले में दो चचेरे भाइयों को मिली 20-20 साल की सजा

Spread the love

उन्होंने बताया कि पुलिस ने दोनों को 22 जनवरी को गिरफ्तार किया था. (सांकेतिक फोटो)

एडीजीसी (ADGC) ने बताया कि जुर्माने की 75 फीसदी राशि पीड़िता को दिए जाने का आदेश हुआ है. सिंह ने बताया कि बिसंडा थाना क्षेत्र में 13 जनवरी 2017 की शाम करीब छह बजे लड़की का बलात्कार किया गया था और उस समय उसकी आयु 17 वर्ष थी.

  • Last Updated:
    February 3, 2021, 10:55 AM IST

बांदा. उत्तर प्रदेश के बांदा जिले (Banda District) की एक अदालत ने नाबालिग के साथ सामूहिक बलात्कार (Gang Rape) करने के मामले में दो चचेरे भाइयों को 20-20 साल कारावास की सजा सुनाई है और दोनों पर 50-50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है. पॉक्सो अदालत के विशेष लोक अभियोजक (एडीजीसी) रामसुफल सिंह ने बुधवार को बताया कि अपर जिला एवं सत्र न्यायालय (पॉक्सो) के विशेष न्यायाधीश पवन कुमार शर्मा की अदालत (Court) ने सामूहिक बलात्कार के मामले में दो चचेरे भाइयों लवलेश और सुरेश को मंगलवार को 20-20 साल कैद की सजा सुनाई और दोनों पर 50-50 हजार रुपये जुर्माना लगाया है.

एडीजीसी ने बताया कि जुर्माने की 75 फीसदी राशि पीड़िता को दिए जाने का आदेश हुआ है. सिंह ने बताया कि बिसंडा थाना क्षेत्र में 13 जनवरी 2017 की शाम करीब छह बजे लड़की का बलात्कार किया गया था और उस समय उसकी आयु 17 वर्ष थी. उन्होंने बताया कि पुलिस ने दोनों को 22 जनवरी को गिरफ्तार किया था.

35 हजार रुपये का जुर्माना लगाया था
बता दें कि बीते 13 जनवरी को भी खबर सामने आई थी कि बांदा जिले की एक अदालत ने तेरह वर्ष पूर्व एक युवक की हत्या मामले में दोषी पाए गए एक व्यक्ति को उम्रकैद की सजा सुनाई. साथ ही उस पर 35 हजार रुपये का जुर्माना लगाया. सहायक शासकीय अधिवक्ता (एडीजीसी) देवदत्त मिश्रा ने बुधवार को बताया कि अभियोजन और बचाव पक्ष के अधिवक्ताओं की दलीलें सुनने के बाद अपर जिला एवं सत्र अदालत (चतुर्थ) के न्यायाधीश ने 27 जुलाई 2007 को बांदा शहर में आफताब अली (22) की गोली मारकर हत्या करने का दोषी पाते हुए रसूल खां उर्फ चंदा उर्फ कैफ को उम्रकैद की सजा सुनाई और उस पर 35 हजार रुपये का जुर्माना लगाया.हादसे में मौत होने की सूचना परिवार को भेजी थी

उन्होंने बताया कि 27 जुलाई 2007 को दिन में करीब ढाई बजे आफताब अली को रसूल खां अपना फ्रिज बनवाने के बहाने उसकी दुकान से मोटरसाइकिल में बैठाकर ले गया था और खुटला मुहल्ले में चूना भट्ठी के पास उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी. उन्होंने बताया कि बाद में उसने अली की सड़क हादसे में मौत होने की सूचना परिवार को भेजी थी.




Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *