राजस्थान: BJP में बयानबाजी पर प्रदेशाध्यक्ष पूनिया बोले- इससे पार्टी की सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ता

Spread the love

पूनिया ने बार-बार बयान जारी करते करने वाले नेताओं को नसीहत देते हुये कहा कि संगठन की बात को पार्टी फोरम पर रखना ही उचित होगा.

Satish Poonia’s big statement: राजस्थान बीजेपी में नेतृत्व को लेकर मचे घमासान के बीच पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने लेकसिटी उदयपुर में बड़ा बयान दिया है. पूनिया ने पार्टी के नेताओं के बयानों को लेकर कहा कि इससे पार्टी की सेहत, नीति और निर्णय पर कोई फर्क नहीं पड़ता है.

उदयपुर. कांग्रेस के साथ-साथ राजस्थान में बीजेपी (BJP) में भी चल रहे घमासान पर लंबे समय बाद पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया (Satish Poonia) ने चुप्पी तोड़ी है. पार्टी में चल रहे पोस्टर विवाद और नेतृत्व के वर्चस्व वाले बयानों के बीच पूनिया ने पार्टी के बयानवीर नेताओं को दो टूक नसीहत दे डाली है. पूनिया ने कहा कि ऐसे बयानों से पार्टी की सेहत, नीति और निर्णय पर कोई फर्क नहीं पड़ता है.

पूनिया ने गुटबाजी पर खुलकर बोलते हुये कहा कि वर्तमान में चुनाव नजदीक नहीं है. ऐसे में अभी नेतृत्व का सवाल उठाना गलत होगा. आलाकमान जिसके भी नेतृत्व में चुनाव लड़ने का निर्णय करेगा सभी कार्यकर्ता एकजुट होकर उसका समर्थन करेंगे. उन्होंने इन मुद्दों पर बार-बार बयान जारी करते करने वाले नेताओं को नसीहत देते हुये कहा कि संगठन की बात को पार्टी फोरम पर रखना ही उचित होगा.

पूनिया बोले जुगाड़ के सहारे चल रही है गहलोत सरकार

उदयपुर प्रवास पर आये बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने इस दौरान प्रदेश की गहलोत सरकार पर भी जमकर निशाना साधा. सतीश पूनिया ने कहा है कि वर्तमान कांग्रेस सरकार जुगाड़ पर चल रही है. इसके लिये पूनिया ने पूर्वी राजस्थान में चलने वाले जुगाड़ का जिक्र करते सरकार की तुलना उससे की. मीडिया से बातचीत करते हुये पूनिया में एक बार फिर प्रदेश में मध्यावधि चुनाव की आशंका जाहिर की है. सतीश पूनिया ने प्रदेश सरकार को वेंटिलेटर से भी बुरी स्थिति में बताया. पूनिया ने कहा कि कांग्रेस का आंतरिक लोकतंत्र ही पूरी तरह से खत्म हो चुका है.महाराणा प्रताप की प्रतिमा पर अर्पित की पुष्पांजलि

यहां पूनिया ने नगर निगम प्रांगण में आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर योगाभ्यास भी किया. इस दौरान सतीश पूनिया के साथ प्रदेश जिला कार्यकारिणी के सदस्य और निगम के पार्षद भी मौजूद रहे. इसके बाद पूनिया ने महाराणा प्रताप की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की और वहां पौधारोपण भी किया.

राजे बनाम पूनिया गुट में छिड़ी है जंग

उल्लेखनीय है कि राजस्थान में इन दिनों कांग्रेस में जोरदार कलह चल ही रही है. कांग्रेस में गहलोत और पायलट गुट के बीच वर्चस्व की जंग छिड़ी है. वहीं बीजेपी में भी गुटबाजी कम नहीं है. यहां भी पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया गुट में घमासान मचा हुआ है. प्रदेश बीजेपी कार्यालय पर लगे पोस्टर से वसुंधरा राजे की फोटो हटा दिये जाने के बाद ये यहां भी नेतृत्व और वर्चस्व की जंग तेज हो गई है.





Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *