रूस ने दुनिया के सामने पेश किया ‘चेकमेट’, अमेरिका को देगा टक्कर

Spread the love

मास्को. रूस के विमान निर्माता सुखोई (Shukhoi Fighter Jet) ने मंगलवार को अपने नए लड़ाकू विमान का शुरुआती मॉडल दुनिया के सामने रखा. यह विमान स्टील्थ (दुश्मन के रडार की नजर में न आने) की क्षमता और अन्य अत्याधुनिक विशेषताओं से युक्त है.इस युद्धक विमान को ‘चेकमेट’ नाम दिया गया है.

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने MAKS-2021 इंटरनेशनल एविएशन एंड स्पेस सैलून में इस विमान का निरीक्षण किया और इस मौके पर उन्होंने देश की हवाई शक्ति की सराहना की. 2023 में अपनी पहली उड़ान भरेगा और 2026 में इसके पहले बैच का उत्पादन होगा. समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक यह पांचवी पीढ़ी का फ़ाइटर जेट है, जिसे एक एयरशो में पेश किया गया.

Pegasus Spy Case: फ्रांस ने शुरू की पेगासस जासूसी मामले की जांच, भारत ने कही ये बात

पुतिन के शासन के अंतर्गत रूस ने अपने स्वयं के सशस्त्र बलों के लिए और हथियारों की बिक्री से निर्यात राजस्व को बढ़ावा देने के लिए, सैन्य विमानों और नए हथियारों में भारी निवेश किया है. इसके कई नए हथियार अभी भी शीत युद्ध से सोवियत युग की तकनीक पर आधारित हैं. नया विमान रूस के नए 2 इंजन वाले सुखोई-57 स्टील्थ लड़ाकू विमान से छोटा है और इसमें सिर्फ एक इंजन है.

कनाडा ने भारत की डायरेक्ट फ्लाइट पर बैन 21 अगस्त तक बढ़ाया

चेकमेट को ढूंढना आसान नहीं

यूनाइटेड एयरक्राफ़्ट कॉर्पोरेशन के प्रमुख यूरी स्लाइयूसर ने पत्रकारों से बताया कि अगले 15 वर्षों में रूस की ऐसे 300 फ़ाइटर जेट बनाने की योजना है. इसे अमेरिका के सबसे आधुनिक F-35 विमानों के जवाब के तौर पर देखा जा रहा है. रूस की सरकारी एयरोस्पेस और डिफेंस कंपनी रूस्टेक का कहना है कि दुश्मन के लिए इस प्लेन को ढूंढ पाना आसान नहीं होगा और इसे चलाने की कीमत (ऑपरेटिंग कॉस्ट) भी कम होगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *