हरियाणा: किसान नेताओं को घर से किया गिरफ्तार, किसानों ने आवाज दबाने का आरोप लगाया

Spread the love

किसानों ने सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

किसान नेताओं की गिरफ्तारी (Arrest) कि विरोध में एकजुट हुए किसानों (Farmers) ने रोष प्रदर्शन किया और सरकार पर किसानों की आवाज दबाने का आरोप लगाया.

चरखी दादरी. दिल्ली कूच की तैयारियों में लगे किसान नेताओं को पुलिस ने देर रात की उनके घरों में नजरबंद कर दिया गया. जिसको लेकर किसान (Farmers) एकजुट हो गए और विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान पुलिस ने भाकियू शक्ति दल के प्रदेशाध्यक्ष जगबीर घसोला व अन्य पदाधिकारियों को उनके दादरी निवास से गिरफ्तार किया. गिरफ्तारी (Arrest) के विरोध में किसानों ने रोष जताते हुए उनकी आवाज को दबाने का आरोप लगाया.

भाकियू नेता जगबीर घसोला व अन्य पदाधिकारियों को पुलिस द्वारा देर रात ही उनके घरों पर नजरबंद कर दिया था. पुलिस ने रात को ही उनको गिरफ्तार करने की कोशिश की गई. किसान नेताओं को नजरबंद करने की सूचना पर किसान संगठनों के सदस्य एकजुट हो गए और पुलिस की कार्यप्रणाली का विरोध किया. इसी दौरान पुलिस भाकियू नेता जगबीर घसोला व जगबीर फौजी के निवास पर पहुंची और उनको गिरफ्तार किया.

किसानों की आवाज नहीं दबा सकती सरकार

किसान नेताओं की गिरफ्तारी कि विरोध में एकजुट हुए किसानों ने रोष प्रदर्शन किया और सरकार पर किसानों की आवाज दबाने का आरोप लगाया. गिरफ्तरी से पहले भाकियू नेता जगबीर घसोला ने कहा कि पुलिस ने रात को ही दीवारें फांदकर उनको गिरफ्तार करने का प्रयास किया. बिना नोटिस के ही रातभर नजरबंद रखा गया. पुलिस उन्हें गिरफ्तार करके किसानों की आवाज नहीं दबा सकती. हर हाल में किसान 26 नवंबर को दिल्ली कूच करेंगे.गिरफ्तारी को बताया निंदनीय

वहीं किसान नेता राजू मान ने कहा कि पुलिस द्वारा किसान नेताओं की गिरफ्तारी करना निदंनीय है. ऐसे किसानों की आवाज नहीं दबाई जा सकती. किसान अपनी मांगों को लेकर एकजुट हैं और 26 नवंबर को दिल्ली कूच करेंगे.

Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *