Bird Flu: 12 राज्यों में फैला बर्ड फ्लू, पोल्ट्री फार्मों में Avian Influenza की हुई पुष्टि

Spread the love

नई दिल्ली. भारत में बर्ड फ्लू तेजी से पैर पसार रहा है. केंद्र सरकार ने रविवार को 9 राज्य केरल, हरियाणा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, गुजरात, उत्तर प्रदेश और पंजाब में पोल्ट्री पक्षियों (Poultry Birds) में बर्ड फ्लू (Bird Flu) की पुष्टि की है। इसके साथ ही अब 12 से ज्यादा राज्यों मध्य प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, राजस्थान, जम्मू-कश्मीर और पंजाब में कौवें, प्रवासी और जंगली पक्षियों में एवियन इंफ्लुएंजा (Avian Influenza) के बारे में बताया गया है.

मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान में कहा गया है कि उन सभी स्थानों पर निगरानी का काम जारी है, जहां कौवों, प्रवासी और जंगली पक्षियों में संक्रमण का पता चला है.

राजस्थान में मृत पाए गए 6 हजार से ज्यादा पक्षी
राजस्थान पशुपालन विभाग का कहना है कि राज्य के 17 जिलों में एवियन इन्फ्लुएंजा (बर्ड फ्लू) की पुष्टि हुई है. 25 दिसंबर, 2020 से 24 जनवरी, 2021 के बीच राज्य में 6,595 पक्षी मृत पाए गए हैं. राज्य के 17 जिले बर्ड फ्लू संक्रमण से प्रभावित हैं. पशुपालन विभाग के अनुसार 27 जिलों के 267 सैंपल्स में से 67 सैंपल्स के टेस्ट में संक्रमण पाया गया है.डिपार्टमेंट ऑफ एनिमल हसबैंड्री एंड डेयरिंग (डीएएचडी) राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों को 50ः50 के अनुपात के आधार पर अनुदान मुहैया कराता है. सभी राज्य ‘एवियन इन्फ्लुएंजा 2021 की रोकथाम और नियंत्रण की संशोधित कार्ययोजना’ की दैनिक आधार पर इस विभाग को रिपोर्ट दे रहे हैं.

बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए FSSAI ने कुछ दिशा-निर्देश जारी किए हैं. जो इस प्रकार हैं…

1. पोल्ट्री में प्रकोप वाले क्षेत्रों से लाए गए मांस और अंडे को कच्चा या आंशिक रूप से पकाया नहीं जाना चाहिए.

2. लोगों को आधे उबले अंडे और अधपके चिकन नहीं खाने चाहिए. उन्हें कच्चे मांस को खुले में नहीं रखना चाहिए और कच्चे मांस के साथ सीधे संपर्क नहीं रखना चाहिए.

3. लोगों को संक्रमित क्षेत्रों में पक्षियों के साथ सीधे संपर्क में नहीं आना चाहिए, नंगे हाथों से मृत पक्षियों को छूने से बचें और कच्चे चिकन को लेते समय मास्क और दस्ताने का उपयोग करें.

4. लोगों को बर्ड फ्लू संक्रमित क्षेत्रों से प्राप्त अंडे या मुर्गी के मांस को नहीं खरीदना चाहिए और संक्रमित क्षेत्रों में मुर्गी बेचने वाले खुले बाजारों में जाने से बचना चाहिए.

5. खुदरा दुकानों को एवियन इन्फ्लूएंजा के प्रकोप वाले क्षेत्रों से किसी भी जीवित या मृत पोल्ट्री पक्षियों को नहीं लाना चाहिए और इसे खाद्य श्रृंखला में प्रवेश करने की अनुमति भी नहीं देनी चाहिए.

Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *