IND VS AUS: टीम इंडिया की जीत ने बढ़ाई कोहली की चिंता, BCCI की परेशानी भी बढ़ी

Spread the love

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच में शानदार जीत दर्ज की.

भारत ने ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) पर चौथे टेस्ट मैच में शानदार जीत दर्ज की. भारतीय टीम (Team India) को अब फरवरी में इंग्लैंड से सीरीज (India vs England) खेलनी है. भारतीय चयनकर्ता जब टीम चुनने बैठेंगे तो उनके सामने बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले युवाओं और अनुभवी खिलाड़ियों में किसी ना किसी को बाहर करने की चुनौती होगी.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 19, 2021, 5:11 PM IST

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया में भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) की ऐतिहासिक जीत से उसके कप्तान और कोच की चिंता बढ़ गई है. यही नहीं, बीसीसीआई के चयनकर्ताओं की परेशानी भी बढ़ने जा रही है. यह चिंता आने वाली सीरीज को लेकर है. भारतीय टीम (Team India) को अब फरवरी में इंग्लैंड से सीरीज (India vs England) खेलनी है. भारतीय चयनकर्ता जब मंगलवार को टीम चुनने के लिए बैठेंगे तो उनके सामने बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले युवा खिलाड़ियों और बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले अनुभवी खिलाड़ियों में किसी ना किसी को बाहर करने की चुनौती होगी.

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के खिलाफ मंगलवार को चौथे टेस्ट मैच (Brisbane Test) में शानदार जीत दर्ज की. इस जीत में युवा खिलाड़ियों शुभमन गिल (Shubman Gill), ऋषभ पंत (Rishabh Pant), वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar), मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj), शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur), टी नटराजन (T Natarajan) का शानदार प्रदर्शन रहा. नवदीप सैनी ने भी चोटिल होने के बावजद भी अपना योगदान दिया. अब मंगलवार को ही भारतीय टीम का चयन होना है. ऑस्ट्रेलिया दौरे पर चोट या किसी और कारण से टीम से बाहर रहे कम से कम 6 खिलाड़ी वापसी कर सकते हैं.

टीम में लौटने के दावेदारों में विराट कोहली (Virat Kohli), ईशांत शर्मा (Ishant Sharma), जसप्रीत बुमराह, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा और मोहम्मद शमी शामिल हैं. इन खिलाड़ियों के लौटने के कारण ऐसे कई युवाओं पर टीम से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा है, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया में भारत को ऐतिहासिक जीत दिलाने में अहम भूमिका रही. ऐसे युवा खिलाड़ियों में वॉशिंगटन सुंदर, मोहम्मद सिराज, शार्दुल ठाकुर, टी नटराजन शामिल हैं, जो अगली सीरीज से बाहर हो सकते हैं.

जाहिर है, जब इंग्लैंड के लिए टीम चुनी जाएगी, तो वह चयनकर्ताओं के लिए बड़ी चुनौती होगी. इंग्लैंड की टीम भारत दौरे पर आ रही है. घरेलू सीरीज के लिए 15-16 सदस्यीय भारतीय टीम ही चुने जाने की संभावना है.यह भी पढ़ें: पुजारा को नॉट आउट देने पर मांजरेकर से भिड़े ग्लेन मैक्ग्रा, कहा- तो फिर आउट किसे देंगे?

कप्तान विराट कोहली की टीम में वापसी तय है. हो सकता है कि वे टीम चयन के सिरदर्द से बच जाएं. कोहली यह सिरदर्द भले ही चयनकर्ताओं को ट्रांसफर कर दें लेकिन जब वे प्लेइंग इलेवन चुनते वक्त उनकी परेशानी जरूर बढ़ने वाली है. कोहली को प्लेइंग इलेवन चुनने की मशक्कत में कोच रवि शास्त्री और अजिंक्य रहाणे मददगार रहने वाले हैं. अब यह देखना दिलचस्प होगा कि शास्त्री और रहाणे प्लेइंग इलेवन चुनते वक्त उन युवाओं को तरजीह देंगे कि जो आस्ट्रेलिया में जीत दिलाई है या वे अनुभवी खिलाड़ी जो बरसों से जीत दिलाते रहे हैं.




Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *