Kisan Aandolan: सिंघु बॉर्डर पर किसानों के खिलाफ लामबंद हुए 30 गांव के ग्रामीण और मार्केट एसोसिएशन, निकाला पैदल मार्च

Spread the love

सोनीपत. हरियाणा के सोनीपत जिले के सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का आंदोलन (Kisan Aandolan) लगातार जारी हैं. सिंघु बॉर्डर के आसपास के गांवों के लोग, मार्केट एसोसिएशन और पेट्रोल पंप एसोसिएशन किसानों द्वारा NH बंद किए जाने से काफी परेशान हैं. इसके चलते बुधवार को सोनीपत जिले के 30 गांव, मार्केट एसोसिएशन, पेट्रोल पम्प एसोसिएशन से जुड़े लोगों ने सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों के खिलाफ पैदल मार्च निकाला. पैदल मार्च करने वाले लोगों का कहना था कि किसान जीटी रोड को एक तरफ से खाली कर दे, यानी रास्ते से उठ जाएं ताकि उन्हें दिल्ली जाने में परेशानी न हो.

किसानों आंदोलनकारियों के खिलाफ पैदल मार्च करने वालों का कहना है कि तकरीबन 8 महीने से किसान कृषि कानूनों के खिलाफ सिंघु बॉर्डर के जीटी रोड पर बैठ कर प्रदर्शन कर रहे हैं. वहीं, स्थानीय लोगों के प्रदर्शन को देखते हुए सोनीपत पुलिस ने इलाके के सभी रास्‍तों को बंद कर दिया था. सिंघु बॉर्डर जाने वाले रास्ते पर बैराकेडिंग कर दिया था. स्थानीय लोगों ने पुलिस पर आरोप लगाया कि पुलिस लोगों को रोक रही है और पैदल मार्च में शामिल होने नहीं दे रही है.

पुलिस अधिकारियों का कहना था कि वो किसी भी तरीके से लॉ एंड ऑर्डर खराब नहीं होने देंगे. जहां पर पैदल मार्च को रोका गया था, वहां से महज 500 मीटर की दूरी पर किसान प्रदर्शन कर रहे थे. इस वजह से स्थानीय लोगों की मांग पुलिस ने सुनी और स्थानीय लोगो को भरोसा दिलाया कि उनकी बातें सरकार तक पहुंचा दी जाएगी.

ग्रामीणों ने दिया 1 हफ्ते का समय

स्थानीय ग्रामीणों ने जिला प्रशासन को 1 हफ्ते का समय दिया है कि अगर हमारी मांगे नहीं मानी तो गांव के रास्ते रोके जाएंगे. वहीं, ड्यूटी मजिस्ट्रेट बोले कि टकराव की स्थिति को रोकने के लिए स्थानीय ग्रामीणों को समझा दिया गया है और उनकी मांग सरकार तक भेज दी जाएगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *