Kisan Andolan: टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम तक पहुंचा किसान आंदोलन, विराट कोहली बोले-मीटिंग में हुई चर्चा– News18 Hindi

Spread the love

चेन्नई. किसान आंदोलन (Kisan Andolan) के मुद्दे पर संसद से लेकर क्रिकेट के ड्रेसिंग रूम तक में चर्चा हो रही है. दरअसल, टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने इंग्लैंड के साथ शुरू हो रहे पहले टेस्ट से पहले एक वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा कि टीम मीटिंग में इस मुद्दे पर भी चर्चा हुई. बुधवार को कोहली , सचिन तेंदुलकर, कोच रवि शास्त्री समेत कई भारतीय क्रिकेट सितारों ने किसानों के प्रदर्शन पर अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना समेत कुछ अंतरराष्ट्रीय हस्तियों के सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने के बाद देश में एकजुटता बनाये रखने की अपील की थी.

बता दें कि विराट ने किसान आंदोलन को लेकर ट्वीट भी किया था और लिखा था कि असहमतियों के इस दौर में एकजुट रहिए. उन्होंने कहा, ‘असहमति के इस वक्त मे हम सभी एकजुट रहें. किसान हमारे देश का अंग है. हमें यकीन है कि सभी पक्षों के बीच एक सौहार्दपूर्ण समाधान निकल जाएगा ताकि शांति हो सके और सभी मिलकर आगे बढ़ सकें.’

भारतीय किसानों के समर्थन में एनबीए और एनएफएल सितारे
अमेरिकी फुटबॉल लीग एनएफएल के सितारे जुजू स्मिथ ने भारत में नये कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों की चिकित्सा सहायता के लिये 10000 डॉलर दिये हैं. वहीं एनबीए फॉरवर्ड काइल कुजमा ने भी आंदोलन का समर्थन किया है. इससे पहले अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना ने भी आंदोलन का समर्थन किया था और उसके साथ एक खबर साझा की थी जिसमें आंदोलन स्थल पर इंटरनेट पर पाबंदी का उल्लेख किया गया था.

जुजू ने ट्वीट किया, “यह बताते हुए खुशी हो रही है कि मैने भारत में जरूरतमंद किसानों की चिकित्सा सहायता के लिये 10000 डॉलर दिये हैं. उम्मीद है कि इससे आगे जिंदगियां बच सकेंगी. हैशटैग फार्मर्स प्रोटेस्ट.’’ एनबीए में लॉस एंजिलिस लैकर्स के लिये खेलने वाले कुजमा ने भी वह खबर साझा की जो रिहाना ने ट्वीट की थी. उन्होंने कहा, ‘‘इस पर बात होनी चाहिये. हैशटैग फार्मर्स प्रोटेस्ट.’’ एनबीए के पूर्व स्टार बारोन डेविस ने ट्वीट किया,‘‘क्या हम इस पर बात करेंगे कि भारत में क्या हो रहा है. किसानों के आंदोलन को लेकर जागरूकता जगाने में मेरे साथ जुड़िये. हैशटैग फार्मर्स प्रोटेस्ट.

Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *