Kisan Andolan: रिहाना के समर्थन में उतरे इरफान पठान, जॉर्ज फ्लाइड की दिलाई याद– News18 Hindi

Spread the love

नई दिल्ली. दिल्ली की सीमाओं पर कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर किसान पिछले ढाई महीने से आंदोलन कर रहे हैं. इस आंदोलन को कई अंतरराष्ट्रीय हस्तियों ने भी सर्मथन दे दिया है. पॉप स्टार रिहाना के किसान आंदोलन पर किए ट्वीट के बाद सोशल मीडिया दो धड़ों में बंटा नजर आ रहा है. एक धड़े ने जहां इसे भारत के खिलाफ दुष्प्रचार बताया है तो दूसरे धड़े ने रिहाना का समर्थन किया है. भारतीय पूर्व गेंदबाज इरफान पठान ने इशारों-इशारों में रिहाना की बातों का समर्थन किया है. सोशल मीडिया पर प्लेटफॉर्म ट्विटर पर रिहाना के ट्वीट को भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप बताया जा रहा है. इस पर इरफान पठान ने जॉर्ज फ्लाइड की याद दिलाई है जिनकी हत्या के बाद दुनिया भर में blacklivesmatter आंदोलन चला.

पठान ने गुरुवार को ट्वीट किया, “जब संयुक्त राज्य अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड की एक पुलिसकर्मी द्वारा बेरहमी से हत्या कर दी गई थी, तो हमारे देश ने अपना दुख व्यक्त किया.” इसके साथ ही उन्होंने हैश टैग #Justsaying का इस्तेमाल किया है.

भारतीय ड्रेसिंग रूम में हुई चर्चा

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बताया कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के मौजूदा प्रदर्शन का मसला टीम बैठक में उठा जिसमें सभी ने अपने विचार रखे. इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट से पूर्व ऑनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में कोहली ने इस संक्षिप्त बातचीत का ब्योरा नहीं दिया. उन्होंने कहा, “हमने टीम बैठक में इस पर बात की. सभी ने अपनी राय रखी.”

यह भी पढ़ें:

Kisan Andolan: टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम तक पहुंचा किसान आंदोलन, विराट कोहली बोले-मीटिंग में हुई चर्चा

IND vs ENG: चेन्नई में भारत का पलड़ा है भारी, आंकड़े दे रहे हैं गवाही

बुधवार को कोहली, सचिन तेंदुलकर, कोच रवि शास्त्री समेत कई भारतीय क्रिकेट सितारों ने किसानों के प्रदर्शन पर अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना समेत कुछ अंतरराष्ट्रीय हस्तियों के सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने के बाद देश में एकजुटता बनाए रखने की अपील की थी. कोहली ने ट्वीट किया था, “असहमति के इस दौर में एकजुटता बनाये रखें. किसान देश का अभिन्न अंग हैं और मुझे यकीन है कि सभी पक्षों के बीच आपसी सहमति से कोई हल निकल आएगा.”

Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *