Panchayat Chunav 2021: इस बार घट जाएंगे UP में ग्राम प्रधानों के 880 पद, ये रही वजह

Spread the love

इस बार घट जाएंगे UP में ग्राम प्रधानों के 880 पद (File Phot)

दरअसल, चुनाव आयोग ने अपने शेड्यूल में हाईकोर्ट (High Court) को बताया कि पिछली 22 जनवरी को पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) के लिए मतदाता सूची तैयार हो गई है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    February 7, 2021, 7:06 AM IST

प्रयागराज. यूपी में पंचायत चुनाव (UP Panchayat Chunav) की तारीखों के ऐलान कुछ ही दिनों में होने वाला है. इसी बीच उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत चुनाव में इस बार 2016 के मुकाबले 880 ग्राम पंचायतें कम हो जाएंगी. ऐसा नए परिसीमन के कारण होगा. चुनाव कराने में हो रही देरी की वजह साफ करते हुए प्रदेश सरकार ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में चल रही सुनवाई के दौरान यह जानकारी दी थी. चार फरवरी को हाईकोर्ट ने राज्य सरकार और चुनाव आयोग के प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए 30 अप्रैल तक ग्राम पंचायतों का प्रत्यक्ष चुनाव कराने को मंजूरी दे दी थी.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कोर्ट में सुनवाई के दौरान महाधिवक्ता राघवेंद्र सिंह ने पंचायत चुनाव कराने में हो रही देरी की वजह साफ की. बताया कि प्रदेश में शहरीकरण के कारण तमाम ग्राम पंचायतें शहरी सीमा में शामिल कर ली गईं हैं. इसकी वजह से ग्राम पंचायतों का नए सिरे से परिसीमन करना पड़ा. नए परिसीमन के कारण जहां 2016 में 59074 ग्राम प्रधानों का चुनाव हुआ था वहीं इस बार 58194 ग्राम प्रधान ही चुने जाएंगे.

Lucknow News: मुख्य सूचना आयुक्त बने पूर्व IPS भावेश कुमार सिंह, राज्यपाल ने दिलाई शपथ

दरअसल, चुनाव आयोग ने अपने शेड्यूल में हाईकोर्ट को बताया कि पिछली 22 जनवरी को पंचायत चुनाव के लिए मतदाता सूची तैयार हो गई है. 28 जनवरी तक परिसीमन का काम भी पूरा कर लिया गया है, लेकिन सीटों का आरक्षण राज्य सरकार को फाइनल करना है. यही कारण है कि अब तक चुनाव कार्यक्रम जारी नहीं किया जा सका है. आयोग ने बताया कि सीटों का आरक्षण पूरा होने के बाद चुनाव में 45 दिन का समय लगेगा. हाईकोर्ट के आदेश के बाद माना जा रहा है कि 18 मार्च को राज्य निर्वाचन आयोग पंचायत चुनाव की अधिसूचना जारी कर सकता है.




Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *