PM नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ में की टीम इंडिया की तारीफ, बीसीसीआई ने कहा-तिरंगे को रखेंगे हमेशा ऊंचा

Spread the love

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को हाल में ही 2-1 से टेस्ट सीरीज में मात दी है. (PIC: AP)

Mann Ki Baat: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने मुश्किल हालात में ऑस्ट्रेलिया को उसी की धरती पर मात देने वाली टीम इंडिया की तारीफ की है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 31, 2021, 2:53 PM IST

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलियाई धरती पर ऐतिहासिक जीत हासिल करने वाली टीम इंडिया की चर्चा अभी थमी नहीं है. विराट कोहली की अनुपस्थिति में जिस तरह अजिंक्य रहाणे की अगुवाई में भारतीय टीम ने कंगारू टीम को हराया, उसकी तारीफ हर कोई कर रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी भारतीय टीम इस प्रदर्शन से बेहद खुश हैं. उन्होंने टीम इंडिया की जीत को प्रेरणादायक बताया है.

रविवार को अपने साप्ताहिक कार्यक्रम ‘मन की बात’ में पीएम मोदी ने कहा, “इस महीने, क्रिकेट पिच से भी बहुत अच्छी खबर मिली. हमारी क्रिकेट टीम ने शुरुआती दिक्कतों के बाद शानदार वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीती. हमारे खिलाड़ियों का हार्डवर्क और टीमवर्क प्रेरित करने वाला है.” बीसीसीआई ने भारतीय टीम का हौसला बढ़ाने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद दिया है. बीसीसीआई ने ट्वीट किया, “प्रशंसा और प्रोत्साहन के लिए आपका धन्यवाद. टीम इंडिया भारत के तिरंगे झंडे को ऊंचा रखने के लिए हर संभव कोशिश करेगी. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी तिरंगे के चिह्न के साथ प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के ट्वीट को रिट्वीट किया है.

On This Day: सचिन के शतक के बावजूद पाकिस्तान से हारा भारत, फूट-फूट कर रोए थे तेंदुलकर

IND VS ENG: जोस बटलर ने कहा- भारत में जीत के लिए 600-650 रन बनाने होंगेबता दें कि पहला टेस्ट में सिर्फ 36 रन पर सिमटने वाली टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया ने बुरी तरह हराया था. इसके बाद भारतीय टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली भी पैटरनिटी लीव पर स्वदेश लौट गए. भारत की मुश्किलें यही खत्म नहीं हुई. एक के बाद एक भारतीय खिलाड़ी चोटिल होते गए. हालांकि इसके बावजूद मेलबर्न टेस्ट में कार्यवाहक कप्तान अजिंक्य रहाणे की अगुवाई में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया को आठ विकेट से शिकस्त देने में सफल रही. सिडनी में खेला गया तीसरा टेस्ट मैच ड्रॉ रहा. इस मैच में चोटिल होने के बावजूद हनुमा विहारी और रविचंद्रन अश्विन ने ऐतिसाहिक ड्रॉ कराया. ऋषभ पंत ने सिडनी टेस्ट की चौथी पारी में 97 रन बनाए थे अगर वह एक घंटा और क्रीज पर टिक जाते तो मैच का परिणाम भारत के पक्ष में होता.

हालांकि पंत और भारतीय टीम ने इसकी कसर ब्रिसबेन में खेले गए आखिरी टेस्ट में पूरी कर दी. बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के आखिरी मुकाबले में गाबा के मैदान पर टीम इंडिया ने चौथी पारी में 328 रनों के लक्ष्य का पीछा किया और ऑस्ट्रेलिया को तीन विकेट से मात दी.




Source link


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *